गणतंत्र दिवस 2022

गणतंत्र दिवस 2022

गणतंत्र दिवस 2022 के अवसर पर पुलिस अधीक्षक द्वारा ध्वजारोहण...

शांती रैली

शांती रैली

होली त्यौहार के पहले बेमेतरा जिले में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा शांती रैली का आयोजन...

जनदर्शन

जनदर्शन

पुलिश अधीक्षक द्वारा लोगों की समस्याओं का त्वरित निराकरण हेतु जनदर्शन का आयोजन...

पुलिस ऑफिसर्स मेस बेमेतरा का लोकार्पण

पुलिस ऑफिसर्स मेस बेमेतरा का लोकार्पण

पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज द्वारा पुलिस ऑफिसर्स मेस बेमेतरा का लोकार्पण कार्यक्रम...

साइबर जागरूकता कार्यक्रम

साइबर जागरूकता कार्यक्रम

शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मोहरेंगा में कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा साइबर जागरूकता तथा विद्यार्थियों का सम्मान कार्यक्रम...

गणतंत्र दिवस 2022

गणतंत्र दिवस 2022

गणतंत्र दिवस 2022 के अवसर पर पुलिस अधिकारीयों एवं कर्मचारियों का ग्रुप फोटो...

मोटरसाइकिल वितरण

मोटरसाइकिल वितरण

पुलिस अधीक्षक द्वारा दिव्यान्गजनों को मोटरसाइकिल वितरण किया गया...

पदोन्नति कार्यक्रम

पदोन्नति कार्यक्रम

पुलिस अधीक्षक बेमेतरा द्वारा पदोन्नत हुए अधिकारीयों को बैच लगाते हुए...

वृक्षारोपण

वृक्षारोपण

पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज द्वारा वृक्षारोपण करते हुए...

SP BEMETARA

Shri I Kalyan Elesela (IPS)

Mobile No.- 9479190088

Brief Introduction

बेमेतरा जिला :

छत्तीसगढ़ राज्य के दुर्ग जिले को विभाजित कर 22 वें जिले के रूप में 12 जनवरी 2012 को बेमेतरा जिला का गठन किया गया। जिसका विधिवत उद्घाटन राज्य के मुख्यमंत्री माननीय डाॅ. रमन सिंह जी के द्वारा किया गया। जिला मूल रूप से कृषि प्रधान एवं शांति प्रिय क्षेत्र है। लगभग 02 हजार 855 वर्ग कि.मी. में फैला है। नये जिले की कुल जन संख्या 795334 है। इनमें 07 लाख 21 हजार की आबादी ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करती है।

जिला बेमेतरा 02 पुलिस अनुविभागीय क्षेत्र पुलिस अनुविभागीय बेमेतरा एवं बेरला, 08 थाना क्षेत्र थाना बेमेतरा, नवागढ़, नांदघाट, खम्हरिया, दाढ़ी, साजा, बेरला, परपोड़ी एवं 05 पुलिस चौकी क्षेत्र खण्डसरा, देवकर, मारो, चंदनू एवं कण्डरका में विभाजित है। यहां के प्रथम पुलिस अधीक्षक के रूप में श्री आर.पी. साय, भापुसे ने अपनी सेवायें दी।

जिला मुख्यालय बेमेतरा से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर हाफ नदी के किनारे ग्राम बुचीपुर में चोदहवी शताब्दी का प्रसिद्ध महामाया मंदिर इस नये जिेले के गौरवशाली इतिहास की साक्षी है। रायपुर जिले की सरहद में शिवनाथ और खारून नदी के संगम में अत्यंत रमणीय व धार्मिक पर्यटन स्थल सोमनाथ का मंदिर इस जिले की शोभा बढ़ाते है।